Top Stories

नई दिल्ली । इलेक्ट्रिक कारों के बूम की संभावनाओं को देखते हुए अब स्कोडा इलेक्ट्रिक स्पोर्ट्स कार बनाने पर विचार कर रही है। कंपनी की ओर से कहा गया है कि यह कार साल 2025 तक बाजार में आ जाएगी। स्कोडा ने खुलासा किया कि एमईबी इलेक्ट्रिकल इस स्पोर्ट्स कार के मैकेनिकल बिट्स तैयार करेगा। माना जा रहा है कि पावर और डायनेमिक्स के पहलू पर यह ढांचा कंपनी को खासा मदद प्रदान करने वाला है।

यह बहुत अच्छी बात है कि इसमें जितनी प्रतिस्पर्धा बढ़ेगी उतना ही कारों के सस्ता होने के चांस है। गौरतलब है कि पिछले महीने स्कोडा ने विजन ई कॉन्सेप्ट कार शोकेस की थी, जिसमें 2 इलेक्ट्रिक मोटर्स दिए गए थे। यह कार 302 बीएचपी का पावर जेनरेट कर सकती है व इसमें 4-वील ड्राइव फीचर दिया गया था।

वहीं इस कॉन्सेप्ट पर दावा किया गया था कि यह 6 सेकंड में 0-100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ सकती है। एमईबी प्लैटफॉर्म की मदद से स्कोडा को अपनी इलेक्ट्रिक कार्स रियर वील ड्राइव पर लाने में भी मदद मिलेगी।

जर्मन कार निर्माता बीएमडब्ल्यू और मर्सिडीज-बेंज ने दक्षिण कोरिया में जनवरी से अप्रैल की अवधि में जापान की तुलना में अधिक वाहन बेचे, एक उद्योग के आंकड़ों ने 21 मई को दिखाया।
कोरिया ऑटोमोबाइल आयातकों और वितरक एसोसिएशन के आंकड़ों के मुताबिक, बीएमडब्ल्यू और मर्सिडीज-बेंज की वाहन बिक्री क्रमश: 48 प्रतिशत और 32 प्रतिशत सालाना सालाना क्रमशः 18,115 और 24,877 इकाइयों को कोरियाई बाजार में पहले चार महीनों में बढ़ी है।
यह पहली बार है कि दो जर्मन कार निर्माता जापान की तुलना में दक्षिण कोरिया में बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। ऑडी-वोक्सवैगन ग्रुप के उत्सर्जन घोटाले से उत्क्रमण का मुख्य रूप से प्रभावित है
पिछले साल जुलाई में ऑडी-वोक्सवैगन समूह ने स्वैच्छिक तौर पर अपने वाहनों को कोरिया में बेचना बंद कर दिया था क्योंकि सियोल सरकार ने घोषणा की थी कि वे सभी ऑडी और वोक्सवैगन कारों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा लेंगे जबकि जर्मन कार निर्माता पर भारी जुर्माना लगाएगा, इसकी कुछ डीजल-संचालित कारों में परीक्षण
जनवरी से अप्रैल तक जापान आयात बाजार के आकार के अनुसार दक्षिण कोरिया से आगे था। आयातित कार निर्माता जापान में चार माह के दौरान 96,877 वाहन बेचे, एक साल पहले की तुलना में 4.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि कोरिया में 75,017 यूनिट्स की बिक्री हुई, जो सालाना आधार पर 1.6 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई।

एक देश के लिए एक कर व्‍यवस्‍था के अंतर्गत जो सरकार नए गुड्स एंड सर्विस टैक्स, जीएसटी को लेकर आई है, उसमें जहां पहली सूची में 98 उत्पादों को रखा गया है, वहीं टैक्स दरों में ऑटोमोबाइल सेक्टर को शामिल कर उन लोगों के लिए बहुत राहत दी है जो महंगी कारों का शोक रखते हैं, तथा वे जोकि इन महंगी कार खरीदकर अपने सपनों को पूरा करना चाहते हैं । जीएसटी के चलते ज्यादातर वाहनों की कटेगरी 28 फीसदी टैक्स के स्लैब में आ गई है । जिसका कि फायदा ऑटोमोबाइल इंडस्‍ट्री के लगभग सभी सेगमेंट को होना तय माना जा रहा है ।

छोटी कारें तो जीएटी के कारण महंगी हो जाएंगी लेकिन बड़ी गाड़ियां जिनका इंजन 1500 सीसी से ज्यादा है वो अब 50 फीसदी के बजाए 43 फीसदी टैक्स के स्लैब में आ जाएंगी जिसके चलते इनकी कीमतों में लगभग 7 फीसदी तक की कमी आएगी । इन कारों पर जीएसटी के अलावा 15 फीसदी का अतिरिक्त कर लगेगा। सरकार इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री को बढ़ाने पर भी फोकस किए है, इसलिए 12 फीसदी के टैक्स बैंड में इन्‍हें रखा गया है। जिससे साफ होता है कि सरकार का ध्‍यान आगे क्लीन व ग्रीन वातावरण रखने वाली गाड़ियों पर ज्यादा है ।

कुल मिलाकर मिड साइज कारों में 43 प्रतिशत में कोई बदलाव नहीं आने वाला है जबकि छोटी कारें 29 प्रतिशत तक महंगी हो जाएंगी । वहीं बड़ी कारें व एसयूवी 43 सस्ती होने जा रही हैं । साथ ही जैसा कि ऊपर स्‍पष्‍ट है जीएसटी में इलेक्ट्रिक वाहन कार इत्‍यादि 12 सस्‍ते हो जाएंगे ।

बीएमडब्ल्यू-7 श्रृंखला के अंतर्गत कंपनी ने हाल ही में अपनी दो नई कार बाजार में उतारी हैं, जिनकी शुरूआती कीमत 2.27 करोड़ रुपये है । कंपनी की ये कारें एम-760 ली एक्स ड्राइव और एम-760 ली एक्स ड्राइव वी-12 एक्सीलेंस हैं ।

इनके बारें में बताएं कि यह कार महज 3.7 सेंकंड में 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटा की तीव्र रफ्तार पकड़ सकती है। नई BMW 760 Li बीएमडब्ल्यू की सबसे पॉवरफुल कार है । इस कार में वी12 का ताकतवर इंजन लगा है । वहीं कार में लगा 6.6  M-Performance Twin Power Turbo V 12 पेट्रोल इंजन 5,550 आरपीएम पर अधिकतम 800 न्यूटन मीटर का टॉर्क जेनरेट करता है । यह कार M 760 Li अधिकतम 250 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से दौड़ सकती है।

इसी तरह नई M 760 Li के एक्स्टीरियर में चारों तरफ क्रोम ग्रिलिंग है। फ्रंट बंपर को रिवाइज किया गया है और इसमें थ्री सेक्शन एयर इनटेकर लगा है।

आउडी ने हाल ही में ए3 का अपडेटेड वर्जन लॉन्च किया है, जिसकी शुरुआती कीमत 30.5 लाख (एक्स-शोरूम दिल्ली) है। यह देश में आउडी का सबसे सस्ता मॉडल है और इसका मुकाबला मर्सेडीज-बेंज सीएलए से है। अगर कीमत की बात की जाए तो इसका मुकाबला स्कोडा सुपर्ब से भी है। आइये जानते हैं, इन तीनों की कीमतों और खास फीचर्स के बारे में ।

इन तीनों में सबसे सस्ती स्कोडा सुपर्ब है, जिसकी कीमत 24.9 लाख रुपये से शुरू होती है और 32 लाख रुपये तक जाती है। मर्सेडीज बेंज सीएलए की कीमत 31.9 लाख रुपये से शुरू होती है और टॉप-स्पेक वेरियंट की कीमत 35.2 लाख रुपये तक है। आउडी ए3 की कीमत 30.5 लाख रुपये से शुरू होकर 35.6 लाख रुपये (सभी कीमत, एक्स-शोरूम, नई दिल्ली) तक जाती है। मर्सेडीज बेंज में 2.0 लीटर का पेट्रोल इंजन है और 7-स्पीड ऑटोमेटिक गियरबॉक्स है।

स्कोडा सुपर्ब में 1.8 लीटर का पेट्रोल इंजन 320 एनएम का टॉर्क देता है। इसमें 1.4 लीटर का मोटर है जो बिजल बचत में काफी सहायक है। इसमें 7-स्पीड ऑटोमेटिक गियरबॉक्स के ऑप्शन के साथ 6-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन है। आउडी ए3 में 1.4 लीटर का पेट्रोल इंजन है। इसमें 7-स्पीड ऑटोमेटिक गियरबॉक्स दिया गया है।

डीजल इंजन की बात करें तो स्कोडा सुपर्ब नाम के ही हिसाब से 2.0 लीटर का शानदार इंजन दे रहा है। ए3 में भी यह इंजन है लेकिन इसकी टोन लो है। सीएलए का इंजन सबसे बड़ा है लेकिन तीनों में यह बहुत ही कम पावरफुल है। मर्सेडीज बेंज और आउडी में बात करें तो मर्सेडीज बेंज ज्यादा लंबी है और इसका वीलबेस भी लंबा है। चौड़ाई और ऊंचाई के मामले में आउडी ए3 थोड़ी चौड़ी है जबकि सीएलए अन्य दो की तुलना में ज्यादा ऊंची है।

मर्सेडीज की बूट कपैसिटी 470 लीटर्स और आउडी की 425 लीटर्स है। सुपर्ब अन्य दो कारों के मुकाबले साइज में काफी बड़ी है। यह लंबी, चौड़ी, ऊंची है और इसका वीलबेस भी बड़ा है। स्कोडा की बूट कपैसिटी भी 625 लीटर्स है, जो अन्यों से ज्यादा है।

 

अपनी कारों में अडवांस सेफ्टी फीचर देने वाली कार निर्माता कंपनी वॉल्वो ने एक और नया सेफ्टी फीचर लॉन्च किया है. यह सेफ्टी फीचर 'रेड की' है. यह लाल चाबी खतरों से आपकी कार की सुरक्षा करेगी.

कई बार आपको अपनी गाड़ी किसी दूसरे व्यक्ति को देनी पड़ती है. दूसरे व्यक्ति पर थोड़ा भरोसा कम होता है और खतरे की आशंका बनी रहती है. ऐसे में यह चाबी गाड़ी की पूरी हिफाजत करेगी.

जब इस चाबी की मदद से कार को चलाया जाएगा तो कार की टॉप स्पीड घट जाएगी, अडोप्टिव क्रूज कंट्रोल सिस्टम आगे चल रही कार से ज्यादा से ज्यादा दूरी बना कर रखेगा और म्यूजिक सिस्टम की आवाज को भी तय सीमा से ज्यादा नहीं बढ़ाया जा सकेगा.

इसके अलावा अन्य सेफ्टी फीचर्स जैसे ब्लाइंड स्पॉट इंफर्मेशन सिस्टम, लेन कीपिंग सिस्टम, आगे से टक्कर होने की चेतावनी देने वाला वार्निंग सिस्टम, ड्राइवर अलर्ट कंट्रोल, किसी चीज से दूरी का अलर्ट देने वाला सिस्टम और ट्रैफिक संकेतों को पहचाने वाला सिस्टम भी ऑन रहेगा.

 

मारुति सुजुकी इग्निस की काफी डिमांड होने के कारण इसकी लॉन्चिंग को टाल दिया गया. पहले इसके 2016 में लॉन्च होने की उम्मीद थी. अब इसकी लॉन्चिंग की डेट कन्फर्म की गई है जो 13 जनवरी, 2017 है. 2016 ऑटो एक्सपो में भारत में इस कार की प्रदर्शनी की गई थी.

मारुति सुजुकी इग्निस पेट्रोल और डीजल, दोनों ही इंजन ऑप्शंस में आती है. इसके 1.2के सीरीज के पेट्रोल इंजन से 84.3पीएस की ताकत और 115एनएम तक टॉर्क पैदा होता है.

इसका डीजल इंजन 74 हॉर्स पावर की ताकत और 190एनएम तक टॉर्क पैदा होता है. इन दोनों ही इंजनों को 5-स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन से जोड़ा गया है.

अपने हाई-सेट बॉनेट, यूनीक हनीकॉम्ब ग्रिल और डेटाइम रनिंग लाइट्स की वजह से यह गाड़ी बाकी कारों से काफी अलग नजर आती है. इस कार के चमकीले काले अलॉय वील्स इसे और आकर्षक बना देते हैं.

गाड़ी का पिछला हिस्सा फ्लैट है और इसमें वर्गाकार टेललाइट्स लगाई गई हैं. इस कार का पिछला हिस्सा आपको 1980 के दशक की फॉक्सवागन गोल्फ की याद दिलाता है.

इंटीरियर की बात करें तो केबिन नए डिजाइन का है. डैशबोर्ड पर नजर डालें तो यहां टॉप सेंटर में टचस्क्रीन सिस्टम दिया गया है. वहीं, एसी स्विच और अन्य कंट्रोल्स को नए डिजाइन में दिया गया है. क्लाइमेट कंट्रोल डिस्प्ले को कैप्सूल के आकार में रखा गया है. स्टीयरिंग वील्स को भी नया डिजाइन दिया गया है. इस पर मल्टिफंक्शन कंट्रोल दिए गए हैं. इंफोटेनमेट स्क्रीन के दोनों ओर स्‍क्वेर शेप्ड एसी वेंट्स दिए गए हैं. साइड में दिए एसी वेंट्स राउंड शेप में हैं.

एस-क्रॉस और बलेनो के बाद इग्निस मारुति सुजुकी का तीसरा प्रॉडक्ट होगा जिसे नेक्सा डीलरशिप के माध्यम से बेचा जाएगा. इसकी कीमत 5.5 लाख रुपये से शुरू होने की उम्मीद है.

बजाज ऑटो अपनी नई 2017 पल्सर रेंज के साथ तैयार है.बजाज ने 220एफ, 180, 150 और 135 एलएस समेत अपडेटेड 2017 पल्सर रेंज को लॉन्च कर दिया है.पल्सर 150 को छोड़कर अब सभी पल्सर बाइक में बीएसIV इंजन है.

बजाज ने पल्सर के 2017 के कलेक्शंस का नाम 'लेजर एज्ड' रखा है. नए कलक्शन के सभी मॉडल नीले और सफेद के डुअल टोन कलर में है. बजाज का दावा है कि नई पल्सरों में आरामदेह सीट और बेहतर एग्जॉस्ट सिस्टम है.

पल्सर 135 एलएस में 135 सीसी सिंगल सिलिंडर वाला BSIV इंजन है जो 13.3 बीएचपी पावर और 11.4 एनएम टॉर्क देता है.

पल्सर 180 में 180 सीसी का सिंगल सिलिंडर BSIV इंजन है जो 17 बीएचपी और 14.22 एनएम टॉर्क देता है.पल्सर 220 एफ में 220 सीसी वाला BSIV इंजन है जो 20.7 बीएचपी और 19 एनएम टॉर्क देता है. सभी मॉडल्स में 5-स्पीड गियरबॉक्स लगा है.

इससे पहले कंपनी ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर नई पल्सर के टीज़र को भी जारी कर दिया है.कंपनी ने दो टीज़र इमेज जारी की थी, जिसमें 2017 बजाज पल्सर 135, 150 और 220एफ की झलक दिखाई गई थी.

 

 

होंडा ने ब्राजील में आयोजित साओ पाउलो इंटरनैशनल मोटर शो-2016 में अपनी पहली कॉम्पैक्ट एसयूवी डब्ल्यूआर-वी को पेश किया था. भारत में इसे अगले साल मार्च में लॉन्च करने की संभावना है.

सब 4-मीटर एसयूवी सेगमेंट में इसका मुकाबला मारुति सुजुकी विटारा ब्रेज़ा, महिन्द्रा टीयूवी-300 और फोर्ड की ईकोस्पोर्ट से होगा.

डब्ल्यूआर-वी यानी विनसम रनअबाउट वीइकल को होंडा जैज के प्लैटफार्म पर तैयार किया गया है. इसका डिजाइन बॉक्सी और दमदार है. साइड से यह होंडा जैज जैसी है, लेकिन आगे से सीआर-वी और एचआर-वी की तरह इसे भी नया डिजाइन दिया गया है. इसके बोनट को ऊंचा रखा गया है.

इस वजह से यह आगे से चौड़ी नज़र आती है. यहां होंडा की नए डिजाइन वाली क्रोम ग्रिल भी दी गई है. इसके दोनों और स्वेप्ट बैक हैडलैंप्स के साथ एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइटें लगी हैं. फ्रंट बंपर भी चौड़े डिजाइन का है.

डब्ल्यूआर-वी यानी विनसम रनअबाउट वीइकल को होंडा जैज के प्लैटफार्म पर तैयार किया गया है. इसका डिजाइन बॉक्सी और दमदार है. साइड से यह होंडा जैज जैसी है, लेकिन आगे से सीआर-वी और एचआर-वी की तरह इसे भी नया डिजाइन दिया गया है. इसके बोनट को ऊंचा रखा गया है. 

इस वजह से यह आगे से चौड़ी नज़र आती है. यहां होंडा की नए डिजाइन वाली क्रोम ग्रिल भी दी गई है. इसके दोनों और स्वेप्ट बैक हैडलैंप्स के साथ एलईडी डे-टाइम रनिंग लाइटें लगी हैं. फ्रंट बंपर भी चौड़े डिजाइन का है.

डब्ल्यूआर-वी में भी वही इंजन और गियरबॉक्स के ऑप्शंस होंगे, जो जैज में हैं. इसमें 90 बीएचपी पावर देने वाले 1.2 लीटर का पेट्रोल इंजन और 100 बीएचपी पावर देने वाले 1.5 लीटर का डीजल इंजन होगा.

इस के ज्यादातर फीचर होंडा जैज जैसे ही होंगे, यानी इस में भी जैज जितना जगहदार केबिन, सेगमेंट में सबसे ज्यादा बूट स्पेस, मैजिक सीट और दूसरे अच्छे फीचर मिलेंगे.

 

 

 

एक स्कूटर की कीमत आप क्या लगाते हैं. 30 से 40 हजार ना. तो जरा रुकिए ये कोई आम स्कूटर नहीं है. जब आप इसकी कीमत सुनेंगे तो यकीनन इसपर विश्वास नहीं कर पाएंगे. ये स्कूटर बड़ी-बड़ी गाड़ियों को टक्कर देने आ रहा है. 

अब वह जमाना गया जब कार का दरवाजा चाबी से खुलता था. भाई अब तो जमाना सेल्फी का है. हम किसी फोन की नहीं बल्कि कार की बात कर रहे हैं. 

भारत की सड़कों पर विदेशी रफ्तार के साथ आने वाली नई कार जिसको देखकर आपके मूंह से निकलेगा वाह क्या बात है. ऐसी ड्राइविंग का मजा चाहिए तो इसके लिए आपको थोड़ा इंतजार करना होगा.

Advertisement
Sign up via our free email subscription service to receive notifications when new information is available.