Top Stories

 सरकारी नौकरी करना चाहते थे बालीवुड के मशहूर संगीतकार राजेश रोशन अपने संगीत से लगभग तीन दशक से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर रहे हैं
उनके पिता रोशन फिल्म इंडस्ट्री के नामी संगीतकार थे। राजेश रोशन का जन्म 24 मई 1955 को मुंबई में हुआ।
।उनके पिता की मृत्यु होने के बाद उनकी मां संगीतकार फैयाज अहमद खान से संगीत की शिक्षा लेने लगी। सत्तर के दशक में राजेश रोशन संगीतकार लक्ष्मीकांत प्यारे लाल के सहायक के तौर पर काम करने लगे। उन्होंने लगभग पांच वर्ष तक उनके साथ काम किया। राजेश रोशन ने संगीतकार के रूप में अपने सिने करियर की शुरूआत महमूद की 1974 में प्रदर्शित फिल्म कुंवारा बाप से की लेकिन कमजोर पटकथा के कारण फिल्म टिकट खिड़की पर बुरी तरह पिट गयी।
राजेश रोशन की किस्मत का सितारा 1975 में प्रदर्शित फिल्म जूली चमका। इस फिल्म में उनके संगीतबद्ध गीत “दिल क्या करे जब किसी को किसी से प्यार हो जाये, माई हार्ट इज बीटिंग, ये रातें नयी पुरानी और जूली आई लव यू” जैसे गीत श्रोताओं के बीच काफी लोकप्रिय हुये।
लगभग चार वर्ष तक मायानगरी मुंबई में संघर्ष करने के बाद राजेश रोशन को 1979 में अमिताभ बच्चन अभिनीत फिल्म मिस्टर नटवर लाल में संगीत देने का मौका मिला।
इस फिल्म में उनका संगीतबद्ध गीत “परदेसिया ये सच है पिया” उन दिनों श्रोताओं के बीच काफी लोकप्रिय हुआ। ‘‘मिस्टर नटवर लाल” राजेश रोशन के साथ ही सुपर स्टार अमिताभ बच्चन के सिने करियर के लिये भी महत्वूपूर्ण फिल्म साबित हुयी।
इस फिल्म से पहले अमिताभ बच्चन ने फिल्मों के लिये कोई गीत नहीं गाया था। यह राजेश रोशन ही थे जिन्होंने अमिताभ बच्चन की गायकी पर भरोसा जताते हुये उनसे फिल्म में “मेरे पास आओ मेरे दोस्तो, एक किस्सा सुनाऊं” गीत गाने की पेशकश की।
यह गीत श्रोताओं के बीच आज भी लोकप्रिय है।
राजेश रोशन अब तक सर्वश्रेष्ठ संगीतकार के रूप में दो बार फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किये जा चुके है। वर्ष 1975 में प्रदर्शित फिल्म “जूली” के लिये सबसे पहले उन्हें सर्वश्रेष्ठ संगीतकार का फिल्मफेयर पुरस्कार दिया गया था। इसके बाद 2000 में प्रदर्शित फिल्म “कहो ना प्यार है” के लिये भी उन्हें सर्वश्रेष्ठ संगीतकार का फिल्मफेयर पुरस्कार मिला। वह लगभग 125 फिल्मों के लिये संगीत निर्देशन कर चुके है।

 

मुंबई, अपने पिता सन्नी देओल के नक़्शे कदम पर चलने को तैयार है करण देओल। अपने पिता की तरह ही एक लव स्टोरी से बॉलीवुड में अपने करियर की पारी शुरू करेंगे फिल्म अभिनेता सनी देओल के पुत्र करण फिल्म “पल-पल दिल के पास” से रूपहले पर्दे पर उतरने के लिए तैयार हैं और पिछले सप्ताह इस फिल्म की शूटिंग मनाली में शुरू हुयी थी
सनी ने खुद अपने निर्देशन में करण को फिल्म में उतारा है सूत्रों के अनुसार करण की यह पहली फिल्म होगी।
करण को फिल्म में उतारने के लिए जी स्टूडियो ने सनी के साथ सहयोग किया है। दोनों फिल्म ‘गदर एक प्रेम कथा’ की सफलता के बाद हाथ मिलाए थे।सनी देओल निर्देशित यह फिल्म एक प्रेम कहानी है।
फिल्म का नाम धर्मेद्र पर फिल्माए गए एक लोकप्रिय गाना ‘पल-पल दिल के पास’ पर रखा गया है।
धर्मेद्र ने बताया कि करण अपने फिल्मी कैरियर को लेकर गंभीर हैं और उन्हें पूरा भरोसा है कि वह सभी को गौरवान्वित करेंगे।

नयी दिल्ली, बॉलीवुड अभिनेत्री कृति सेनन ने फिल्म जगत में अपने करियर के तीन वर्ष पूरे कर लिए है ।कृति सेनन ने बॉलीवुड में अपनी पहली फिल्म टाइगर श्रॉफ के साथ की जो बड़ी कामयाब साबित हुई थी। कृति का फिल्मी प्रष्टभूमि से ताल्लुक नहीं था फिर भी कृति की बॉलीवुड में अच्छी शुरुआत रही है। कृति सैनन ने वर्ष 2014 में प्रदर्शित फिल्म हीरोपंती से अपने करियर की शुरूआत की थी।
इसके बाद वह रोहित शेट्टी की ‘दिलवाले’ में वरुण धवन, शाहरुख खान और काजोल के साथ दिखाई दीं।कृति ने कहा कि यह उनके जीवन की खास यात्रा रही है।
उन्होंने कहा कि तीन वर्ष मेरे जीवन की सबसे विशेष यात्राओं में से हैं। ‘हीरोपंती’ के तीन वर्ष, मेरे तीन वर्ष।
उनकी आने वाली फिल्मों में सुशांत सिंह राजपूत के साथ दिनेश विजन द्वारा निर्देशित फिल्म ‘राब्ता’ और निर्देशक अश्विनी अय्यर तिवारी की ‘बरेली की बर्फी’ है जिसमें वह आयुष्मान खुराना और राजकुमार राव के साथ भी दिखाई देंगी।

 मुंबई ,) फिल्म “पल पल दिल के पास” से बॉलीवुड में अपने करियर की शुरूआत कर रहे बॉलीवुड के ही मैन धर्मेन्द्र का पोता और सनी देओल का बेटा करण देओल आत्मविश्वास से लबरेज है। मैं उन्हें करियर तथा जीवन में कामयाबी की शुभकामनाएं देता हूं।
धर्मेन्द्र ने कहा, “ करण आत्मविश्वास से लबरेज हैं और मैं चाहता हूं कि वह इसी आत्मविश्वास के साथ आसमान की ऊंचाइयों को छुएं। बॉलीवुड फिल्मकार अनिल शर्मा के पुत्र उत्कर्ष भी फिल्म जीनियस से बॉलीवुड में शुरूआत कर रहे हैं। धर्मेंद्र ने उत्कर्ष को भी बधाई एवं शुभकामनाएं दीं।
उन्होंने कहा, ‘मैं उत्कर्ष को बधाई देना चाहता हूं कि वह इस फिल्म से अपनी अभिनय पारी शुरू करने जा रहे हैं।मैं उन्हें सलाह दूंगा कि वह विनम्र बने रहें और कड़ी मेहनत करते रहें तथा प्रसिद्धि से कभी प्रभावित न हों।लोगों के दिलों में जगह बनाने की कोशिश करें।

 

 मुंबई, फरहान अख्तर और दिशा पटानी को लेकर फिल्म बनाने जा रहे हैं। बॉलीवुड के जाने माने फिल्मकार आशुतोष गोवारिकर,
पिछले साल ऋतिक रोशन को लेकर मोहनजोदाड़ो बनायी, फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह नकार दी गयी थी।वह अब एक और फिल्म बनाने जा रहे हैं जिसका टाइटिल हनीमून रखा गया है।इसके लिए उन्होंने फरहान अख्तर को साइन कर लिया है।वह अपनी इस फिल्म में फरहान के अपोजिट दिशा पाटनी को साइन करना चाहते है। बताया जाता है कि दिशा शुरू से ही आशुतोष की फैन रही हैं और वह उनके निर्देशन में काम करना चाहती थीं।
‘एम एस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’ में दिशा को देख कर उनके स्क्रीन प्रजेंस के कायल हुए आशुतोष की माने तो दिशा का स्क्रीन प्रजेंस जबरदस्त है। दिशा के पास कई फिल्मों के ऑफर हैं ऐसे में आशुतोष, दिशा पाटनी को अपनी फिल्म के लिए साइन कर पाएंगे या नहीं यह सवाल अभी तक कायम है।

 

 

 

मुंबई ; बॉलीवुड अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा का कहना है कि वह अब आलोचनाओं से नहीं डरती। परिणिति ने कहा कि उनके काम की आलोचना करने वाले लोग उन्हें पसंद आते हैं। फिल्म 'मेरी प्यारी बिंदु' के बॉक्स ऑफिस पर नहीं चलने पर उन्हें पता था कि उनके काम पर लोग उंगलियां उठाएंगे और इसके लिए वह तैयार भी थी। परिणीति ने बताया कि शुरुआत में उन्हें आलोचना से डर लगता था और वह घबरा जाती थी लेकिन अब उन्हें समझ में आ गया है कि आलोचना भी बॉलीवुड का अभिन्न हिस्सा है और आलोचना से वह सीखती हैं ।परिणीति का कहना है कि बॉलीवुड उसी तरह है जैसे दूर के ढोल सुहावने लगते आते हैं।
परिणीति चोपड़ा की हाल ही में प्रदर्शित फिल्म 'मेरी प्यारी बिंदु' बॉक्स ऑफिस पर पिट गयी है लेकिन परिणीति का मनोबल अभी भी बना हुआ है। परिणीति ने यह भी बताया कि बॉलीवुड की इस चमकती-दमकती दुनिया में हमेशा खूबसूरत दिखने का दबाव होता है जो बहुत मुश्किल भरा काम है।

 

अभिनेता रितिक रोशन और उनकी एक्स वाइफ सुजैन खान का तलाक हो चुका है और दोनों अलग-अलग ही रहते हैं, लेकिन खबर है कि रितिक ने अपने घर से कुछ ही दूरी पर सुजैन के लिए एक नया घर खरीदा है। ऐसा तो नहीं कि रितिक जमाने को दिखाने के लिए तलाक ले चुके हैं जबकि सच में वो अपने बीबी और बच्चों का पूरा-पूरा ख्याल रख रहे हैं।

रितिक ने सुजैन के लिए जो घर खरीदा है वह उनके घर से महज 15 मिनट की दूरी पर स्थित है। यह वही एरिया है जहां रितिक और सुजैन के पैरेंट्स भी रहते हैं। वैसे यह सही है कि खाली समय रितिक अपने दोनों बेटों रेहान और रिधान के साथ ही बिताते हैं। ऐसा करके रितिक अपने फैंस को तलाक की ही तरह कोई और नया झटका तो नहीं देने वाले हैं

दुनिया में अपनी खूबसूरती का लोहा मनवा चुकीं ऐश्वर्या राय बच्चन को काफी लंबे समय के बाद कान फिल्म फेस्टीवल में जब लोगों ने देखा तो वो यह कहने से खुद को रोक नहीं सके कि यह तो कोई सिंड्रेला या बॉर्बी डॉल है। ऐश्वर्या 70वें कान फ़िल्म समारोह में जब रेड कार्पेट पर आईं तो हर नज़र उनकी खूबसूरती निहाती हुई नजर आई।

वैसे तो यह 15वां साल है जब ऐश्वर्या कान पहुंची हैं, लेकिन इस बार कुछ खास जरूर रहा जिसने सभी का ध्यान उनकी ओर खींच लिया। दरअसल उनकी ड्रेस कुछ इस तरह डिजाइन की हुई थी कि देखने वालों को ऐश्वर्या किसी सिंड्रेला या बॉर्बी डॉल की तरह नजर आईं और लोगों ने उनकी तारीफ में कसीदे पढ़ना शुरू कर दिए। 

मुंबई। अभिनेता इरफान खान का मानना है कि हॉलीवुड और क्षेत्रीय भाषाओं की शानदार फिल्मों के बीच अपना वजूद कायम रखने के लिए हिंदी सिनेमा को अपना लेवल ऊपर उठाने की जरूरत है। इरफान ने कहा, ''सिनेमा बदल रहा है और इसके दर्शक ज्यादा परिपक्व हो रहे हैं। अगर आप अच्छी कहानी वाली फिल्में बना सकते हैं, तो फिल्म को दर्शक हमेशा अच्छी प्रतिप्रिया देंगे।''

उन्होंने कहा, ''लेकिन अब मुझे लगता है कि हिंदी सिनेमा को अपना स्तर ऊपर उठाने की जरूरत है, क्योंकि एक तरफ जहां हॉलीवुड हिंदी सिनेमा के बिजनेस को प्रभावित कर रहा है वहीं दूसरी ओर क्षेत्रीय भाषा कि फिल्में बेहतर प्रदर्शन कर रही हैं।'' अभिनेता को लगता है कि `बाहुबली' जैसी दक्षिण भारतीय फिल्मों में भारत के पूरे बाजार पर कब्जा करने की क्षमता है, इसलिए हिंदी सिनेमा को वास्तव में अच्छे विषयों के साथ आने की जरूरत है।

इरफान के अनुसार, ''उन्हें दर्शकों को अच्छी कहानियों के जरिए आकर्षित करने की कोशिश करनी चाहिए वरना उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा।'' फिल्म के निर्माताओं ने हिंदी माध्यम के विद्यालयों के शिक्षकों के लिए फिल्म की स्प्रीनिंग आयोजित की थी। फिल्म `हिंदी मीडियम' ने देश में अंग्रेजी भाषा बोलने के प्रति बढ़ते लगाव जैसे मुद्दे को छुआ है। इस बारे में इरफान ने कहा कि अंग्रेजी भाषा जरूरत बन गई है और वह अंग्रेजी भाषा के खिलाफ नहीं हैं। लोगों को ज्यादा से ज्यादा भाषाओं को सीखने की कोशिश करनी चाहिए लेकिन अपनी मातृभाषा पर गर्व भी करना चाहिए।

इरफान ने भारत में शिक्षा के मौजूदा हालात पर कहा कि आजकल पढ़ाई ज्यादा प्रतिस्पर्धात्मक हो गई है और बच्चों के लिए स्कूली पढ़ाई ही पर्याप्त नहीं है। इसके लिए उन्हें निजी कक्षाओं में अपनी पढ़ाई के लिए अतिरिव्त समय की जरूरत होती है। भारत में सरकारी सहायता से संचालित स्कूलों में शिक्षा का स्तर अच्छा नहीं है और अगर यह बेहतर हो जाता है तो फिर राष्ट्र भाषा को अपनी जगह बनाए रखने में मदद मिल सकती है। 

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता अरशद वारसी हॉलीवुड अभिनेता जॉनी डेप के प्रसिद्ध किरदार कैप्टन जैक स्पैरो को `पाइरेट्स ऑफ द कैरेबियन : सालाजार रिवेंज' के हिंदी संस्करण में निभाएंगे।

गोलमाल अगेन की शूटिंग कर रहे अरशद ने बताया, मैं इस किरदार का शौकीन हूं। मुझे जैक स्पैरो बेहत पसंद है। मैंने जब पाइरेट्स ऑफ द कैरेबियन को देखा था तभी मैं इस किरदार का प्रशंसक हो गया था।

उन्होंने कहा, ''डेप फिल्म के दृश्यों में शराब के नशे में चूर नजर आए थे, इन्हें निभाना मेरे लिए चुनौती होगी। शराबी का किरदार निभाना कठिन है। कुल मिलाकर मैं इस प्रैंचाइजी का शौकीन हूं और इसके बारे में अधिक जानने की कोशिश कर रहा हूं।''

डेप प्रसिद्ध `पाइरेट्स ऑफ द कैरेबियन' प्रैंचाइजी के पांचवे संस्करण के साथ वापसी कर रहे हैं। इस फिल्म में उनके साथ जेवियर बर्डेम, ब्रेंटन थवेट्स, काया स्कोडेलारिओ, केविन मैकनेली और जेओप्री रश नजर आएंगे। यह फिल्म भारत में 26 मई को रिलीज होगी। 

मुंबई । फिल्म अभिनेत्री रीमा लागू की मौत के बाद अटकलें लगाई जा रहीं थी कि उनकी जगह टीवी शो नामकरण में उनकी जगह किरदार कौन निभाएगा। गत 18 मई को रीमा लागू की मौत के बाद फिल्म और टीवी जगत सदमे में आ गया था। बताया जा रहा है कि रीमा ने 17 मई को शाम 7 बजे तक अपने शो की शूटिंग की थी, ऐसे में इस बुरी खबर का आना वाकई सबको चौंकाने वाला है।

 इस घटना रीमा की मौत के बाद सभी के दिल में एक सवाल यह आ रहा था कि टीवी शो नामकरण में उनकी जगह कौन लेगा ?  हालांकि नामकरण सीरियल में नील और रिया की शादी होने जा रही है और रीमा लागू ने आखिरी शूटिंग की संगीत के समारोह तक ही किया। वो नामकरण में दयावंती मेहता नाम की महिला का किरदार निभा रही थी। इसके बाद रात में 1 बजे उन्हें सीने में दर्द उठा और 3 बजे उन्होंने दुनिया से विदा ले ली। तो स्टार प्लस के शो नामकरण की टीम ने एक दिन का शोक मनाने के बाद अब शो के लिए रीमा लागू की जगह काम करने के लिए कलाकार ढूंढ लिया है।

 खबर है कि रीमा के निधन के बाद सीरियल की टीम ने दयावंती के लिए नए चेहरे की तलाश कर ली है। इसके लिए उन्होंने गुजराती अभिनेत्री रागिनी शाह का नाम तय किया गया है। रागिनी इससे पहले कई टीवी सीरियल में नजर आ चुकी हैं। वो `दिया और बाती हम', `सरस्वती चंद्र', `एक महल हो सपनों का', `आती रहेंगी बहारें' जैसे सीरियल में काम कर चुकी हैं।

मुंबई । आमिर खान की फिल्म दंगल ने भारत में अपार सफलता के बाद अब चीन में बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा रही है। अब 'दंगल' 1500 करोड़ रुपये की कमाई करने वाली दूसरी फिल्म बन गई है, इससे पहले भारतीय सिनेमा में हालिया रिलीज बाहुबली 2' ने इस आंकड़े को छुआ था।

इसे लेकर बाजार विश्लेषक रमेश बाला ने ट्वीट कर बताया कि 'फिल्म ने अब तक 731़ 36 करोड़ रुपये की कमाई की है। इस तरह से 'दंगल' की वर्ल्डवाइड कमाई 1,501. 64 करोड़ रुपये हो गई है। 'बाहुबली 2' के अबतक आए विश्वस्तर के आंकड़े से 'दंगल' महज 37 करोड़ रुपये पीछे है। जिस तरह से चीन में 'दंगल' ने रफ्तार पकड़ी है उससे तो फिलहाल ऐसा लग रहा है कि 'दंगल' वैश्विक स्तर पर कमाई के मामले में जल्द ही 'बाहुबली 2' को पीछे छोड़ सकती है।

चीन में अब तक के अंतिम आंकड़े के बाद यह तय माना जा रहा है कि 'दंगल' 1,500 करोड़ के आंकड़े को पार कर जाएगी। यह विश्व स्तर 1,500 करोड़ के आंकड़े को पार करने वाली 'दंगल' दूसरी फिल्म होगी। 'बाहुबली' 2 ने हाल ही में 1,500 करोड़ के जादुई आंकड़े को पार किया है।

आपको बता दें कि चीन में नए नाम से रिलीज किया गया है। वहां इसे 'शुओई जियाओ बाबा' नाम मिला है जिसका हिंदी में मतलब है 'आओ बाबा कुश्ती लड़ें'। चीन में 7000 पर्दों पर इसे दिखाया गया है। चीन में रिलीज होने वाली आमिर की पहली फिल्म थी '3 इडियट्स' जिसने वहां बॉलीवुड फिल्मों का बाजार शुरू किया और ताबड़तोड़ कमाई की थी। फिल्म ने वहां 2. 25 मिलियन यानि कि लगभग 15 करोड़ की कमाई की थी। इसके बाद आई 'धूम 3' जो चीन में कमाने वाली सबसे बड़ी भारतीय फिल्म बनी। फिल्म ने '3 इडियट्स' से 40 प्रतिशत ज्यादा कमाया और 3. 15 मिलियन की कमाई की। 

Advertisement
Sign up via our free email subscription service to receive notifications when new information is available.